एयरटेल ने आईडीईएमआईए के साथ साझेदारी कर लॉन्च किया रिसाइकिल्ड पीवीसी सिमकार्ड

– यह पहल 165 टन से अधिक नए प्लास्टिक के उत्पादन की जरूरत को खतम करेगीजिससे एक साल में 690 टन कार्बन डाइऑक्साइड उत्सर्जन कम होगा

गुरुग्राम: भारत के अग्रणी टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर्स में से एक, भारती एयरटेल (“एयरटेल”) ने घोषणा की है कि उसने वर्जिन प्लास्टिक से बने सिम कार्ड्स की जगह रिसाइकल्ड प्लास्टिक से बने सिम कार्ड लॉन्च कर दिए हैं। कंपनी ने इसके लिए आईडीईएमआईए सिक्योर ट्रांजैक्शंस के साथ साझेदारी की है। एयरटेल हमेशा से ही पर्यावरण के अनुकूल और ज़िम्मेदार सर्कुलर बिजनेस प्रथाओं को अपनाने के लिए प्रतिबद्ध रहा है। इसी कड़ी में, एयरटेल ने आईडीईएमआईए सिक्योर ट्रांजैक्शंस के साथ साझेदारी की है, जो  आईडीईएमआईए ग्रुप का हिस्सा है। यह ग्रुप वित्तीय संस्थानों, मोबाइल नेटवर्क ऑपरेटरों और ऑटोमोटिव निर्माताओं के लिए भुगतान और कनेक्टिविटी सॉल्यूशंस प्रदान करता है।

एयरटेल भारतीय टेलीकॉम इंडस्ट्री में पहली टेलीकॉम कंपनी बन गई है, जिसने रिसाइकिल प्लास्टिक से बने सिम कार्ड लॉन्च किए हैं। अब सिम कार्ड बनाने में वर्जिन प्लास्टिक की जगह रिसाइकिल किए गए प्लास्टिक का इस्तेमाल होगा। इस बदलाव से एक वर्ष में 165 टन से ज्यादा प्लास्टिक का इस्तेमाल कम होगा। साथ ही, 690 टन से ज्यादा कार्बन डाइऑक्साइड का उत्सर्जन भी कम होगा।

यह बदलाव एयरटेल के पर्यावरण संरक्षण के लिए उसकी प्रतिबद्धता का प्रमाण है और कंपनी इस दिशा में कई महत्वपूर्ण कदम भी उठाए हैं। एयरटेल ग्रीनहाउस गैसों के उत्सर्जन को कम करने नए तरीकों पर काम कर रही है, इसके लिए कंपनी अपने सप्लायर्स और अन्य बिजनेस साझेदारों के साथ मिलकर काम कर रही ताकि उन्हें भी पर्यावरण संरक्षण की दिशा में काम करने का प्रोत्साहन मिले।

पंकज मिगलानी, डायरेक्टर, सप्लाई चेन, भारती एयरटेल ने कहा, “

Leave a comment