एयरटेल बिजनेस ने 20 मिलियन स्‍मार्ट मीटर्स को पावर-अप करने के लिये इंटेलिस्‍मार्ट के साथ साझेदारी की

  • स्‍मार्ट मीटरिंग के लिये एंडटूएंड आईओटी समाधान की पेशकश, जिसमें हेड एंड सिस्‍टम, मीटर डेटा मैनेजमेंट सिस्‍टम, क्‍लाउड और एनालिटिक्‍स शामिल है

गुरुग्राम, भारत, 21 दिसंबर, 2023: भारती एयरटेल (“एयरटेल”), भारत के अग्रणी दूरसंचार सेवा प्रदाताओं में से एक है, ने आज इंटेलिस्‍मार्ट इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर प्राइवेट लिमिटेड के साथ एक महत्‍वपूर्ण साझेदारी किए जाने की घोषणा की है। इंटेलिस्‍मार्ट एक अग्रणी स्‍मार्ट मीटरिंग एवं डिजिटल समाधान प्रदाता है और इस साझेदारी के तहत 20 मिलियन स्‍मार्ट मीटर्स को पावर-अप किया जाएगा। यह साझेदारी हाई एंड ऐप्‍लीकेशंस, जैसे कि क्‍लाउड और एनालिटिक्‍स के साथ एडवांस मीटरिंग इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर और मीटर डेटा मैनेजमेंट सिस्‍टम्‍स में एयरटेल का प्रवेश भी दिखाती है। यह देश में स्‍मार्ट मीटरिंग के क्षेत्र में इस तरह कीसबसे बड़ी डील है। यह विभिन्‍न सेक्‍टर्समें एयरटेल के तेजी से बढ़ रहे आईओटी डिप्‍लॉयमेंट के लिये महत्‍वपूर्ण योगदान देगी।

एयरटेल के आईओटी प्रस्‍ताव में इसके स्‍वामित्‍व वाला प्‍लेटफॉर्म ‘एयरटेल आईओटी हब’ शामिल है। यह स्‍मार्ट मीटर्स की एडवांस्‍ड एनालिटिक्‍स से ट्रैकिंग और निगरानी में कंपनी की मदद करेगा। यह टेल्‍को ग्रेड सिक्‍योरिटी से समृद्ध बेहद उच्‍च विश्‍वसनीयता भी बनाकर रखेगा। आईओटी हब एयरटेल के अपने क्‍लाउड नेटवर्क पर है। इससे एंटरप्राइज यूजर्स को काफी सुरक्षित एवं शानदार तरीके से अरबों उपकरणों तथा प्रयोगों से जुड़ने और उन्‍हें प्रबंधित करने की क्षमता मिलेगी।

एयरटेल बिजनेस(इंडिया) के सीईओ गणेश लक्ष्‍मीनारायणन ने इस उपक्रम के बारे में कहा, ‘‘हमने देश के सबसे बड़े आईओटी इनेबलर के तौर पर बाजार में अपनी स्थिति को और भी मजबूत किया है। एयरटेल बिजनेस के लिये आईओटी सबसे तेजी से बढ़ रहे बिजनेस सेगमेंट्स में से एक है। और इस डील के साथ हम 250 मिलियन पारंपरिक मीटर्स को स्‍मार्ट मीटर्स के रूप में डिजिटाइज करने के लिये भारत सरकार के लक्ष्‍यमें महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाने की रणनीतिक स्थिति में हैं। अपने प्‍लेटफॉर्म पर देशभर के उपकरणों को कनेक्‍टकरने के साथ हम आईओटी के बाजार में अपनी मौजूदा हिस्‍सेदारी 55.4% (वित्‍त–वर्ष 23-24 की पहली तिमाही तक) को असाधारणदर से बढ़ाएंगे।’’

इंटेलिस्‍मार्ट इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर प्रा. लि. के एमडी एवं सीईओ अनिल रावल ने कहा, ‘‘भारत का स्‍मार्ट मीटरिंगप्रोग्राम विद्युत वितरण के क्षेत्र को आधुनिक बनाने के लिये सरकार द्वारा उठाये गये महत्‍वपूर्ण कदमों में से एक है। स्‍मार्ट ग्रिड्स के लिये स्‍मार्ट मीटर्स महत्‍वपूर्ण होते हैं और वे पावर सिस्‍टम के डिजिटलाइजेशन की कोशिशों का आधार हैं। भारत में स्‍मार्ट मीटर्स के सबसे बड़े पोर्टफोलियोज में से एक पर क्रियान्‍वयन की तैयारी के साथ हम इस सेक्‍टर में सबसे सक्षम और योग्‍य भागीदारों में से कुछ पर भरोसा कर रहे हैं। इस प्रकार विभिन्‍न समाधान मिलेंगे और हमारे एडवांस्‍ड मीटरिंग इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर (एएमआई) समाधानों का सफल डिप्‍लॉयमेंट हो सकेगा। हमें विश्‍वास है कि एक रणनीतिक भागीदार के रूप में एयरटेल का जुड़ना मजबूत गठजोड़ बनाने के हमारे लक्ष्‍य की दिशा में एक महत्‍वपूर्ण कदम होगा। इस प्रकार एक मजबूत और सुरक्षित क्‍लाउड-आधारित सेलुलर कम्‍युनिकेशन नेटवर्क के साथबुनियादी ढांचे के हमारे समाधानों को मजबूती मिलेगी।’’

भारत सरकार ने अगले पाँच वर्षों में 250 मिलियन पारंपरिक मीटर्स को स्‍मार्ट मीटर्स से बदलने का महत्‍वाकांक्षी लक्ष्‍यतय कियाहै। यह एएमआई पहल का हिस्‍सा है। एयरटेल आईओटी अपनी अनूठी क्षमताओं से सरकार के इस लक्ष्‍य को पूरा करने में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाना चाहता है। भारत सरकार के सहयोग से पावर सेक्‍टर के डिजिटाइजेशन द्वारा इस सेक्‍टर में पारदर्शिता एवं उपभोक्‍ता के लिये उनके अनुकूल उपायों की शुरूआत होगी। इससे स्‍मार्ट मीटर्स जैसेनए-नए आविष्‍कारआम हो जाएंगे।

Leave a comment