बिहार आरा एक्सिस बैंक से 16 लाख लूट ले गए लुटेरे, पुलिस बंदूक ताने डेढ़ घंटे सरेंडर की अपील करती रही

BREAKING: आरा एक्सिस बैंक से 16 लाख लूटकर भाग गए लुटेरे, पुलिस बंदूक ताने सरेंडर की अपील करती रह गई

बिहार के आरा में सर्किट हाउस रोड पर एक्सिस बैंक शाखा में सुबह-सुबह आधा दर्जन लुटेरों द्वारा 16 लाख रुपए लूट लिए गये । लुटेरे  चार मिनट के अंदर ही बैंक के काउंटर पर रखे 16 लाख रुपए लूट लिए थे लेकिन गलत सूचना के कारण पुलिस बैंक के बाहर से घेराबंदी करके डेढ़ घंटे तक लुटेरों को एनकाउंटर का डर दिखाकर सरेंडर की अपील करती रही । डेढ़ घंटे इंतजार के बाद भी जब कोई बाहर नहीं आया तब एसपी प्रमोद कुमार बुलेटप्रूफ जैकेट पहनकर बैंक के अंदर घुसे तो पता चला कि लुटेरे अपना काम तो चार मिनिट में ही करके जा चुके हैं कोई लुटेरा बचा ही नहीं है।

यह सारा खेल कन्फ्यूजन के कारण हुआ दरअसल लुटेरों ने बैंक कर्मियों को किसी कमरे में बंद कर दिया था, वहीं से किसी कर्मचारी ने फोन करके यह सूचना पुलिस को दी थी कि लुटेरे बैंक के अन्दर हैं और उन्होंने कर्मचारियों को बंधक बना लिया है. कर्मचारियों की सुरक्षा को देखते हुए ही पुलिस डेढ़ घंटे तक लुटेरों का बैंक के बाहर इंतजार करती रही जबकि लुटेरों ने   चार मिनट के अंदर ही बैंक के काउंटर पर रखे 16 लाख रुपए लूट लिए थे और फरार हो गए थे। 

एक अच्छी बात यह रही कि लूट के दौरान किसी स्टाफ को कोई नुकसान नहीं पहुंचा है और बैंक का लॉकर भी सुरक्षित है।

भोजपुर एसपी प्रमोद कुमार ने एक बयान जारी किया है- “सभी लोगों को सूचित करना है कि आज दिनांक 6 दिसंबर 2023 की सुबह लगभग 10:15 बजे एक्सिस बैंक आरा में पांच अपराधी हथियार के साथ घुसे थे और बैंक कर्मियों को एक रूम में बंद कर दिया और काउंटर पर रखे हुए लगभग साढ़े 16 लाख रुपए लेकर 4 मिनट के अंदर फरार हो गए। बैंक कर्मियों ने थोड़ी देर बाद पुलिस को किसी फोन से सूचना दी कि अपराधी बैंक के अंदर हैं इस पर पुलिस बैंक को घेरकर अंदर घुसी तो बैंक कर्मियों को निकाला गया और फुटेज चेक करने का पता चला कि अपराधी बैंक कर्मियों को एक रूम में बंद करते हुए साढ़े 16 लाख रुपया को लेकर फरार हो गए। अपराधियों का फोटो और वीडियो मिल गया है। उनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम गठित करके कार्रवाई शुरू कर दी गई है।”

बैंक के अंदर हैं लुटेरे इस कन्फ्यूजन में पुलिस बैंक के बाहर डटी रही, और लुटेरों को भागने के लिए डेढ़ घंटे का समय मिल गया

पहले खबर आई थी कि लुटेरे बैंक के अंदर ही हैं तो पुलिस ने ब्रांच को बाहर से घेर लिया। एनकाउंटर के खतरे के मद्देनजर इलाके को भी सील कर दिया गया था। पुलिस आस-पास के मकान की छत से पॉजिशन लेकर तैयार बैठी थी। लुटेरों को लगातार सरेंडर करने के लिए कहा जा रहा था और ऐसा ना होने पर पुलिस एक्शन की संभावना बनी हुई थी लेकिन जब पुलिस टीम अंदर घुसी तो पता चला कि लुटेरे चार मिनट के अंदर ही 16 लाख रुपए लूटकर भाग चुके थे। इस गलतफहमी की वजह से पुलिस का फोकस बैंक पर ही बना रहा और लुटेरों को भागने के लिए डेढ़ घंटे से ज्यादा का समय आसानी से मिल गया। दूसरी मंजिल पर ब्रांच के मेन गेट का शटर गिरा हुआ था, इससे भी पुलिस लुटेरों के अंदर होने को लेकर कन्फ्यूज रह गई।

Leave a comment